जो होता है अच्छे के लिए होता है – Akbar Birbal Motivational Story

254
akber birble story

बीरबल हमेशा एक बात कहते थे कि जो होता है अच्छे के लिए होता है। बादशाह अकबर की इस बात को हमेशा गलत ठहराते थे। दोस्तों इस बात को समझने के लिए इस आर्टिक्ल में हम अकबर बीरबल की एक छोटी सी कहानी से प्रेरणा लेंगे

Akbar Birbal Moral Story – जो होता है, अच्छे के लिए होता है

एक बार क्या होता है Akbar Birbal शिकार पर जा रहे होता है और अकबर का अंगूठा कट जाता है तलवार को निकालते टाइम वो भोख्ला जाता है चिकने चिल्लाने लग जाता है|कहता है सिपाईओ जल्दी जाओ जा करके वैध को बुलाके लाओ देखो मेरा अंगूठा कट गया है देखो मैरी क्या हालत हो गई है|

दूसरी साईट से बीरबल आता है हस्ता हुआ| कहता है महाराज रिलैक्स जो होता है अच्छे के लिए होता है| अकबर कहता है बीरबल तू क्या पागल हो गया है, क्या बोल रहा है, मैं तुझे अपना समझता था और कैसी बेकार की बातें कर रहा है|

Akbar सिपाईओ से बोलता है| एक काम करो पहले वैध को छोरो और इस birbal को ले जाओ और लेजा करके उल्टा लटकादो इसको पूरी रात के लिए और इसको कोड़े मारते रहना और सुबह होते ही फासी दे देना| (वो सब ले जाते है बीरबल को)

उधर से अकबर अकेला शिकार पर चला जाता है| उसको कुछ आधिवासी पकड़ कर ले जाते है और उल्टा टांग देते है| अब वहा आधीवासिओ का डांस चल रहा है|इतने में 1 आधिवासी की नजर पडती है अकबर के अंगूठे की तरफ और वो कहता है की अरे यार यह तो अशुध है, इसकी हम बली नही चड़ा सकते, छोरदों (अकबर को छोर दिया जाता है)

अब अकबर रो रहा है| सुबह का टाइम हो चूका है उसको लगता है की अब तकतो बीरबल को फासी भी लग गई होगी|चीखता और चिल्ला रहा है बीरबल-बीरबल-बीरबल भागता हुआ आ रहा है| अकबर आके देखता है की बीरबल को बस फासी लगने ही वाली है रस्सी लग चुकी है|

Akbar जा करके birbal के पैर पकड़ लेता है| Akbar birbal से कहता है की बीरबल मुझे माफ़ करदो| तुम ठीक कहते थे

बीरबल हमेशा एक बात कहते थे कि जो होता है अच्छे के लिए होता है। बादशाह अकबर की इस बात को हमेशा गलत ठहराते थे। दोस्तों इस बात को समझने के लिए इस आर्टिक्ल में हम अकबर बीरबल की एक छोटी सी कहानी से प्रेरणा लेंगे

. देखा आज मैं तुम्हारी वजह से जिन्दा हूँ और मुझे देखो में कितना घटिया इन्सान हूँ मेने तुम्हारा क्या हाल बना दिया|

तो बीरबल टूटी-फूटी हालत मैं बोलता है, नही महाराज जो होता है अच्छे के लिए होता है अकबर एकदम चोक जाता है कहता है बीरबल तू क्या पागल है क्या ? क्या बोल रहा है जो होता है अच्छे के लिए होता है इसमें क्या अच्छा है?

Birbal Akbar से बोलता है महाराज इसमें यह अच्छा है की अगर में आपके साथ गया होता तो वो लोग मेरी बली चड़ा देते|दोस्तों इस akbar birbal की काल्पनिक स्टोरी से हमको यह सीखना चाहिए की हमारी लाइफ में कितनी भी problems आए, कितनी भी समस्याये आये, हमारे काम बनते बनते रुक जाओ, फिर भी हमको हार नही माननी चाहिए|

क्या पता जो आज आपके साथ बुरा हो रहा हो वो future में आपके लिए बेनिफिट हो और वो बेनिफिट आपको आज पता नही चलेगा वो आपको जब पता चलेगा जब आपके साथ कुछ अच्छा होगा और फिर आप बोलोगे की यार अच्छा हुआ तब मैरे साथ बुरा हुआ था उसकी वजह से ही मुझे आज इसकी knowledge आई|

कहानी से सीख : जो होता है अच्छे के लिए होता है

हम में से ज्यादात्तर लोगों की समस्या यह नहीं है कि उन्हें अच्छी बातों (Good Thoughts) का ज्ञान नहीं है बल्कि समस्या यह है की उनको अच्छी बातों (Good Thoughts) का ज्ञान होने पर वह उन बातों पर विश्वास नहीं करते

निष्कर्ष

दोस्तों कमेंट के माध्यम से यह बताएं कि “Akbar Birbal Motivational Story” वाला यह आर्टिकल आपको कैसा लगा | आप सभी से निवेदन हे की अगर आपको हमारी पोस्ट के माध्यम से सही जानकारी मिले तो अपने जीवन में आवशयक बदलाव जरूर करे फिर भी अगर कुछ क्षति दिखे तो हमारे लिए छोड़ दे और हमे कमेंट करके जरूर बताइए ताकि हम आवश्यक बदलाव कर सके | आपका एक शेयर हमें आपके लिए नए आर्टिकल लाने के लिए प्रेरित करता है | ऐसी ही कहानी के बारेमे जानने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे
धन्यवाद ! 🙏